Home  |  Guestbook  |  Login   |  Subscribe to Newsletter

Pujya Maharajshri

 
 

Anand Vrindavan Aashram

Spiritual Programs

Social Welfare Schemes

Photo Gallery

Annual Programs

Publication

Asharm's News

Web Links

Guest Book

Contact Us

 

ANAND VRINDAVAN:
Swami Sachchidanandaji Saraswati Maharaj
Anand Vrindavan Asharam
Swami Shri Akhandanand Marg
Moti Jheel
Vrindavan (Mathura), U.P.
PIN: 281121 INDIA.

 

Follow us on !
 

 
MaharajShri's Speaks
Audios / Videos

 
 
 

Ashram's News :-

 
 
आनन्द वृन्दावन आश्रम
श्रीकृष्णजन्माष्टमी पर्व 
श्रीकृष्णजन्माष्टमी पर्व 
श्रीकृष्णजन्माष्टमी पर्व 
श्रीकृष्णजन्माष्टमी पर्व 
दिनांक-2-9-2018 को आनन्द वृन्दावन आश्रम में श्रीकृष्णजन्माष्टमी पर्व पर भजन संध्या का आयोजन हुआ एवं मध्यरात्रि के समय भगवान् श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव एवं प्रातःकाल नन्दोत्सव हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। 

गोस्वामी श्रीतुलसीदासजी जयन्ती

गोस्वामी श्रीतुलसीदासजी जयन्ती
आज दिनांक 17-08-2018 तदनुसार  श्रावण शुक्ल सप्तमी- आनन्द वृन्दावन आश्रम में कलिपावनावतार गोस्वामी श्रीतुलसीदासजी महाराज की जन्म जयन्ती महोत्सव बड़े धूम-धाम से मनाया गया। 
    इस अवसर पर भगवान् श्रीभावभवेश्वर मन्दिर के प्रांगण में श्रीरामानन्द सम्प्रदाय के परम विद्वान् सन्त महामण्डलेश्वर श्री रामभूषण दास जी महाराज की अध्यक्षता में सत्सङ्ग-सत्र का आयोजन किया गया, जिसमें वृन्दावन के कई सन्त -विद्वान् महानुभावों ने सम्मिलित हो अपने-अपने भाव-सुमन  श्री तुलसीदास जी के प्रति समर्पित किये। 
    अध्यक्ष महोदय जी ने कहा कि तुलसी कृत रामचरित मानस हमको जीना, मरना,चलना सब सिखाता है।  उसकी एक-एक चौपाई एक-एक मंत्र है। आज कलिकाल में जन-साधारण के उद्धार के लिए तुलसीदास जी ने एकदम सरल मार्ग राम-नाम का आश्रय बताया और कहा -
भायँ कुभायँ अनख आलसहूँ, नाम जपत मङ्गल दिसि दसहूँ।     
गुरुपूर्णिमा महोत्सव

गुरुपूर्णिमा महोत्सव

गुरुपूर्णिमा महोत्सव
श्री वल्लभाचार्य जयन्ती
श्री वल्लभाचार्य जयन्ती
श्री वल्लभाचार्य जयन्ती
श्री वल्लभाचार्य जयन्ती
आज दिनांक 12-04-2018 को श्री वल्लभाचार्य जयन्ती आनन्द वृन्दावन आश्रम में हर्षोल्लास पूर्वक मनाई गई। आज की विद्वत् संगोष्ठी की अध्यक्षता मथुरा के वल्लभ सम्प्रदाय के विद्वान् श्री राजराजेश्वर जी चतुर्वेदी ने की। उन्होंने कहा कि जीवन में समय की सार्थकता सत्सङ्ग से होती है। जीवन में ठाकुर जी की सेवा और भगवान् का गुणानुवाद गाना चाहिए। परम पूज्य स्वामी श्री अखण्डानन्द सरस्वती जी महाराज समन्वय-सिद्धांत के साक्षात् पोषक रहे हैं। यही कारण है कि आनन्द वृन्दावन आश्रम में सारे वैदिक आचार्यों की जयन्ती मनाई जाती है। 
श्रीचैतन्यमहाप्रभु जयंती
श्रीचैतन्यमहाप्रभु जयंती
श्रीचैतन्यमहाप्रभु जयंती
दिनांक-1 -3-2018 को श्रीचैतन्यमहाप्रभु जयंती आनंद वृन्दावन आश्रम में पुरी शंकराचार्य स्वामीश्री निश्चलानन्द सरस्वतीजी महाराज की अध्यक्षता में मनायी गयी।  जिसमें अनेकानेक विद्वानों ने समुपस्थित होकर अपनी-अपनी भाव कुसुमांजलि श्रीचैतन्यमहाप्रभु जी के श्रीचरणों में अर्पित की। 
संन्यास जयन्ती महोत्सव
&संन्यास जयन्ती महोत्सव
संन्यास जयन्ती महोत्सव
संन्यास जयन्ती महोत्सव
आज दिनांक -28 -01-2018 को आनन्द वृन्दावन आश्रम में परम पूज्य स्वामी श्री अखण्डानन्द सरस्वती जी महाराज की   संन्यास जयन्ती महोत्सव-पादुका पूजन  एवं विद्वत् संगोष्ठी के साथ हर्षोल्लास से मनायी   गयी  । 
 श्रीरामानंदाचार्य जयन्ती महोत्सव

श्रीरामानंदाचार्य जयन्ती महोत्सव
  आज दिनांक 8 / 1/2018 तदनुसार माघ कृष्ण सप्तमी- आनन्द वृन्दावन आश्रम में जगद् गुरु श्रीरामानंदाचार्य जयन्ती महोत्सव सोल्लास पूर्वक मनाया गया। जिसमें सम्प्रदाय के अनेक विद्वान् संतों ने आचार्य चरण के प्रति अपनी भाव पुष्पांजलि अर्पित की। विद्वत् संगोष्ठी के अध्यक्ष श्री बिहारीदास भक्तमाली जी ने कहा कि प्रयाग की दिव्य भूमि में पिता श्री पुण्य सदन माता शुशीला के यहाँ आचार्य श्री का प्राकट्य हुआ। परोपकार और परहित  ही संतों का जीवन होता है। आचार्य चरण ने दुःखी जीवों को शीतलता प्रदान करने लिए भगवद् नाम एवं प्रभु शरणागति में लगाया।  श्री रामानन्द सम्प्रदाय की विशेषता है - निरन्तर हरिनाम स्मरण एवं साधु सेवा।  

Copyright 'Maharaj shri' 2013-14

 

Website Design & Developed by : Total Web Technology Pvt. Ltd.